June 21, 2024

पथर्रीपारा में हर्षोल्लास से मनाया गया भोजली उत्सव, निभाई गई मितान बदने की परंपरा

1 min read

देखिए वीडियो

कोरबा(thevalleygraph.com)। छत्तीसगढ़ की पारंपरिक लोक पर्व भोजली महोत्सव बड़े ही हर्षोल्लास के साथ पथर्रीपारा इंदिरा चौक में मनाया गया। इस बीच पथर्रीपारा, राठौर मोहल्ला, मानस नगर, अंधरी कछार, डबरी पारा, सीएसईबी कॉलोनी की माता बहनों द्वारा अपने घर में स्थापित किए भोजली दाई को मुख्य कार्यक्रम स्थल पूजा पंडाल में लाकर भव्य महाआरती व पूजा-अर्चना कर कार्यक्रम की शुरूआत की गई। आचार्य उमाशंकर तिवारी द्वारा विधि विधान से पूजा कराई गई।

कार्यक्रम में मुख्य आयोजक मनीराम जांगड़े मुख्य अतिथि रहे। अन्य अतिथियों में मुकेश राठौर, टेकराम मरावी, सालिक दास वैष्णव, मैनेजर दास, भोला मिश्रा, ईश्वरी प्रसाद श्रीवास द्वारा महा आरती की गई। दोपहर से ही बालक-बालिकाओं के लिए विभिन्न खेल प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया।

तत्पश्चात स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गई, जो आकर्षण का केंद्र रहा। बच्चों द्वारा बहुत ही सुंदर सुआ नृत्य की प्रस्तुति दी गई, जो भोजली में महत्वपूर्ण माना जाता है। पथर्रीपारा में छत्तीसगढ़ का हर एक पारंपरिक लोक पर्व को बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। हरेली व भोजली उत्सव के साथ ही धार्मिक कार्यक्रम में गणेश उत्सव दुर्गा पूजा उत्सव सरस्वती पूजा अन्य कार्यक्रम को माता बहनों का विशेष सराहनीय योगदान रहता है। इसके साथ ही राजीव युवा मितान क्लब के प्रमुख शशि पाल, समीर खंूटे, शेर यादव सक्रिय रूप से कार्यक्रम को संपादित किया। वार्ड नंबर 17, 18 व 19 में भोजली दाई की भक्ति में लीन समस्त कॉलोनी निवासीवासी नजर आए। उसके बाद शाम 5 बजे नाचते गाते पारंपरिक लोक पर भोजली गीत गाते हुए ढेंगुर नाल में विसर्जन के लिए अग्रसर हुए। विसर्जन स्थल पहुंचकर भोजली दाई को विसर्जन किया गया। उपस्थित जनों को प्रसाद वितरण किया गया। पुलिस के द्वारा सुरक्षा को लेकर विशेष व्यवस्था की गई थी।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.