March 4, 2024

लड़की की ‘ना’ पर भी युवक ने पकड़ी बांह, नाबालिग के इंकार पर ब्लैकमेलर बदमाश ने ऐसे लिया बदला

1 min read

Video:- अपने सिर पर एकतरफा आशिकी का भूत लिए युवक ने एक नाबालिग लड़की के ना कहने के बाद भी उसकी बांह पकड़ ली। इस इंकार का बदला लेने के लिए मनचले बदमाश ने उसकी तस्वीरें एडिट कर सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। पर अभी उसकी बदमाशी यहीं न रुकी और उसने तस्वीरें साइट से डिलीट करने के लिए ब्लैक मेल करने लगा। उसने लड़की की मां 20 हजार रुपए मांगे। आखिर सब्र के साथ पीड़िता का डर जाता रहा और उसने पुलिस का दरवाजा खटखटाया। मामले की गंभीरता को संजीदगी से लेते हुए तत्काल कार्रवाई की गई और आरोपी को पकड़कर जेल के हवाले कर दिया गया है।

बिलासपुर(theValleygraph.com)। नाबालिक बालिका के साथ छेड़छाड़ करने वाले आरोपी को सिविल लाइन पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसके विरुद्ध धारा 354, 509(ख) भादवि एवं पॉक्सो एक्ट की धारा 8 के तहत कार्यवाही की गई है। आरोपी गगन कुमार महिलांग पिता इंद्रकुमार महिलांग उम्र 19 वर्ष इमलीपारा थाना सिविल लाइन जिला बिलासपुर का निवासी है।

पुलिस से मिली जानकारी अनुसार पीड़िता द्वारा 27 नवंबर को थाना सिविल लाइन उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि गगन कुमार महिलांगे नामक युवक द्वारा उसे परेशान करते हुए सरेराह उसकी बांह को पकड़ा गया। मना करने पर भी आरोपी द्वारा पीड़िता के फोटो को एडिट कर इंस्टाग्राम में अपलोड कर दिया है और उक्त फोटो को इंस्टाग्राम से हटाने के लिए पीड़िता की मां से बीस हजार रुपए की मांग कर रहा है। पीड़िता की रिपोर्ट पर थाना सिविल लाइन में आईपीसी की धारा 354, 509(ख) तथा पॉक्सो एक्ट की धारा 8 के तहत एफआईआर दर्ज कर पुलिस अधीक्षक बिलासपुर संतोष कुमार सिंह को अवगत कराया गया। उन्होंने तत्काल आरोपी को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। निर्देश के पालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर राजेंद्र जायसवाल, नगर पुलिस अधीक्षक संदीप पटेल के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी सिविल लाइन प्रदीप आर्य द्वारा थाना स्तर पर टीम बनाकर आरोपी गगन कुमार महिलांगे की खोजबीन शुरू की गई। आरोपी के घर इमलीपारा में दबिश दी गई। पुलिस के शिकंजे से बचने उसने काफी कोशिश की और यहां वहां छुपता फिर रहा था। उसे बड़ी मशक्कत के बाद हिरासत में लेकर घटना के बारे में पूछताछ किया गया और उसने अपना जुर्म स्वीकार किया। आरोपी को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

प्रकरण की कार्यवाही में थाना प्रभारी सिविल लाइन प्रदीप आर्य, उपनिरीक्षक संतरा चौहान, आरक्षक देवेंद्र दुबे, राजेश नारंग का विशेष योगदान रहा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.