March 4, 2024

नशे के सुरूर में मामूली विवाद, कत्ल पर आकर थमी बात, आरोपी गिरफ्तार

1 min read

Video:- दीपका पुलिस और साइबर सेल कोरबा को हत्या के मामले में मिली अहम सफलता। आरोपी ने मृतक की ईट से मार कर एवं गला दबाकर की थी हत्या। धारा- 302 भादवि के तहत आरोपी चंदन बाल्मिक (बैरीसार) पिता राममूरत बाल्मिक उम्र 22 वर्ष निवासी प्रगति नगर झोपड़पट्टी दीपिका को किया गया गिरफ्तार।

नशे चलते मामूली विवाद में दो लोगों के सिर खून सवार हो गया। एक ने अपना गुस्सा उतरने पीछा कर दूसरे का रास्ता रोक लिया और मारपीट करने लगा। अब दूसरे की बारी थी तो उसने पीछे से ईंट मारकर उसे बुरी तरह लहूलुहान कर डाला। इस पर भी रोष कम न हुआ तो लात घूंसों से वार पर वार करता रहा। जब वह अधमरा हो गया तो गला घोंटकर उसे हमेशा के लिए मौत की नींद में सुला दिया। पकड़े जाने के दर से आरोपी ने हुलिया बदल लिया और घर से गायब रहने लगा। उसका यही डर उसके पकड़े जाने का कारण बना। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया है।

कोरबा(theValleugraph.com)। इस मामले में सर्वप्रथम मृतक को देखने वाले  रवि उसरवर्षा निवासी प्रगति नगर झोपड़पट्टी दीपिका ने पुलिस को सूचित किया था। वह बस स्टैंड के सामने मिक्सर, बिस्किट का दुकान चलाता है। 2 दिसंबर को रात्रि लगभग 10:30 बजे वह दुकान बढ़ाकर अपने घर चला गया था। दूसरे दिन 3 दिसंबर को रोज की तरह सुबह लगभग 6:30 बजे दुकान को खोल साफ सफाई की। फिर कचरा फेंकने दुकान के पीछे गया। तभी उसकी नजर वाटर ATM के पीछे एक व्यक्ति पर पड़ी, जो ईट के ढेर के पास खून से लथपथ मृत अवस्था में पड़ा था। जिसकी जानकारी थाना दीपका में प्रदान की। मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शुक्ला (IPS) को घटना के बारे में जानकारी दी गई। जिस पर एसपी शुक्ला से तत्काल पतासाजी के निर्देश प्राप्त होने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा, नगर पुलिस अधीक्षक दर्री रॉबिंसन गुड़िया के मार्गदर्शन, थाना प्रभारी दीपका अश्वनी राठौर एवं साइबर सेल प्रभारी कोरबा सहायक उप निरीक्षक अजय सोनवानी के नेतृत्व में पुलिस टीम के द्वारा मौके पर कैंप कर घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण किया गया। चश्मदीद गवाह से घटना के बारे में पूछा गया। घटनास्थल और उसके आसपास का सीसीटीवी फुटेज भी खंगाला गया। पुलिस टीम को फुटेज में कुछ खास सफलता नहीं मिलने पर टीम के द्वारा घटनास्थल के आसपास के संदिग्ध व्यक्तियों की पतासाजी में जुट गई। मुखबिरों को भी सक्रिय किया गया। इस दौरान खबर मिली कि वारदात के दिन से ही एक व्यक्ति हुलिया बदलकर गायब है और अपने घर भी नहीं आ रहा है। मुखबिर के बताए अनुसार उस व्यक्ति को पुलिस द्वारा पड़कर पूछताछ की गई। पहले तो उसने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। बाद में जब उससे कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। आरोपी ने बताया कि घटना की रात मृतक निकोलस टोप्पो से सामुदायिक भवन के पास किसी बात को लेकर विवाद हो गया। बदला लेने की नियत से वह नशे की हालत में मृतक उसका पीछा कर दुकान के पास उसे रोक कर उससे मारपीट करने लगा। इस पर गुस्से में आकर आरोपी ने उसे दुकान के पीछे ईट के पास पटक कर लात और ईट से मार कर उसे गंभीर चोट पहुंचाई और उसकी हत्या कर दी। आरोपी के विरुद्ध पर्याप्त साक्ष्य सबूत पार जाने पर आरोपी चंदन बाल्मिक (बैरीसार) को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.