April 25, 2024

विद्यार्थियों का चहुंमुखी विकास ही उच्च शिक्षा संस्थाओं का लक्ष्य होना चाहिए : आचार्य अरुण दिवाकर नाथ वाजपेयी

1 min read

कमला नेहरु काॅलेज के प्राचार्य डॉ प्रशांत बोपापुरकर ने वसंत पंचमी पर अटल बिहारी वाजपयी विश्वविद्यालय, बिलासपुर के कुलपति अरुण दिवाकर नाथ वाजपेयी से भेंटकर लिया आशीर्वाद।


विद्यार्थियों का चहुंमुखी विकास ही शिक्षण संस्थानों का लक्ष्य होता है और काॅलेज-विश्वविद्यालय कल के युवा भविष्य को उज्ज्वल बनाने अहम भूमिका निभाते हैं। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए आवश्यक है कि काॅलेज और विश्वविद्यालय मिलकर कार्य करें। इस तरह बेहतर समन्वयन स्थापित कर विद्यार्थियों के लिए उच्च शिक्षा के मार्ग प्रशस्त करने हर संभव प्रयास सुनिश्चित करें।

कोरबा(thevalleygraph.com)। यह बातें अटल बिहारी वाजपयी विश्वविद्यालय के कुलगुरु आचार्य अरुण दिवाकर नाथ वाजपेयी ने कमला नेहरु काॅलेज के प्राचार्य डाॅ प्रशांत बोपापुरकर को मार्गदर्शन प्रदान करते हुए कहीं। विश्वविद्यालय पहुंचे डाॅ बोपापुरकर ने उनसे सौजन्य मुलाकात की। कुलगुरु को शाॅल-श्रीफल के साथ वसंत पंचमी की शुभकामनाएं भेंटकर उनका आशीर्वाद लिया। इस मुलाकात में उच्च शिक्षा को बेहतर पायेदान पर ले जाने की दिशा में चल रहे प्रयासों पर संक्षिप्त चर्चा भी हुई। आचार्य वाजपेयी ने कहा कि काॅलेजों को चाहिए कि वे विश्वविद्यालय के साथ मिलकर कार्य करें और विद्यार्थियों के चहुंमुखी विकास के उद्देश्य को आगे बढ़ाने समन्वित प्रयास सुनिश्चित करें। डाॅ बोपापुरकर ने बताया कि काॅलेजों के लिए ऐसे अनेक प्रकार के पाठ्यक्रमों पर भी चर्चा हुई, जिन्हें प्रारंभ कर कोरबा के युवाओं के लिए उच्च शिक्षा, व्यावसायिक कौशल और रोजगार मूलक रास्तों का निर्माण करने मदद मिल सकेगी। कुलगुरु डाॅ वाजपेयी ने उन्हें राष्ट्रीय कार्यशाला-सेमिनार नई शिक्षा नीति और महाविद्यालय के सर्वांगीण विकास पर महत्वपूर्ण मार्गदर्शन प्रदान किया। इस मुलाकात के दौरान कमला नेहरु महाविद्यालय में संगणक विभाग के विभागाध्यक्ष अनिल राठौर भी मौजूद रहे और उन्होंने भी आचार्य डाॅ वाजपेयी का आशीर्वाद प्राप्त किया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.