April 22, 2024

श्रद्धा-भक्ति के साथ विधि-विधान से की गई देवशिल्पी श्री विश्वकर्मा की पूजा, प्रयोगशाला में कंप्यूटरों का किया गया तिलक-वंदन और पुष्प अर्पण

1 min read

देखिए वीडियो…,कमला नेहरु महाविद्यालय कोरबा के कंप्यूटर साइंस व आईटी विभाग में किया गया आयोजन।

कोरबा(thevalleygraph.com)। केवल इस संसार ही नहीं, देवलोक की संरचना के शिल्पकार कहे जाने वाले भगवान श्री विश्वकर्मा की जयंती हर्ष और उल्लास से मनाई गई। इस अवसर पर कमला नेहरु महाविद्यालय में भी विशेष आयोजन रखा गया था। महाविद्यालय के कंप्यूटर साइंस व आईटी डिपार्टमेंट में विधि-विधान से पूजा-पाठ किया गया। कल-पुर्जों, यंत्र-उपकरणों के देवता का वास मानते हुए विभाग व प्रयोगशाला में स्थापित कंप्यूटरों का तिलक-वंदन किया गया, पुष्प अर्पित कि गए और देवशिल्पी विश्वकर्मा की आरती गाई गई। इस अवसर पर प्राध्यापक-सहायक प्राध्यापक, कर्मचारी व छात्र-छात्राओं समेत समस्त महाविद्यालय परिवार मौजूद रहा।

भगवान विश्वकर्मा को देवशिल्पी कहा जाता है, यानी देवताओं के विभिन्न नगरों सहित इस पूरी पृथ्वी का निर्माण भी उन्होंने ही किया है। हर साल कन्या संक्रांति पर इनकी पूजा का विधान है। प्रतिवर्ष जब सूर्य सिंह से कन्या राशि में प्रवेश करता है तो इस मौके पर भगवान विश्वकर्मा ( 2023) की पूजा की जाती है। भगवान विश्वकर्मा देवताओं के शिल्पी कहे जाते हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार, भगवान ब्रह्मा के कहने पर श्री विश्वकर्मा ने इस पूरी पृथ्वी का निर्माण किया था। पंचांग के अनुसार, 17 सितंबर, रविवार को भाद्रपपद मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया और तृतीया तिथि का संयोग बन रहा है। इस दिन ब्रह्म, इंद्र, मानस, पद्म, द्विपुष्कर, अमृत सिद्धि और सर्वार्थसिद्धि नाम के 7 शुभ योग बन रहे हैं। इन शुभ योगों में भगवान विश्वकर्मा की पूजा से हर काम में सफलता मिल सकती है। यह दिन नए काम की शुरूआत के लिए भी अति शुभ माना जाता है।

विश्वकर्मा जयंती पर 17 सितंबर को रविवार होने के कारण महाविद्यालय में शनिवार को यह आयोजन किया गया था। इस अवसर पर प्रभारी प्राचार्य अजय मिश्रा, डॉ अर्चना सिंह, श्रीमती मनीषा शुक्ला, डॉ सुशीला कुजूर, डॉ बीना बिस्वास, डॉ सुनील तिवारी, अनिल राठौर, श्रीमती अंकिता तिवारी, श्रीमती सीमा सोनी, ब्रजेश तिवारी, टीव्ही नरसिम्हम, वेदव्रत उपाध्याय, एसपी मिश्रा, श्रीमती निधि सिंह, रुपेश मिश्रा, सुमित बनर्जी, आशुतोष शर्मा, श्रीमती प्रीति द्विवेदी, श्रीमती अनिता यादव, श्रीमती खुशबू राठौर, अभिषेक तिवारी, श्रीमती मोहन मंजू, श्रीमती दीप्ति सिंह क्षत्रीय, रामकुमार श्रीवास, भारती बंजारे समेत समस्त कर्मचारी उपस्थित रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.