June 21, 2024

अंतरिक्ष की चुनौतियां पार कर Moon पर कैसे पहुंचा चंद्रयान, बच्चों ने जाना वह विज्ञान

1 min read

छग विज्ञान सभा पिथोरा इकाई का आयोजन

रायपुर(theValleygraph.com)। छत्तीसगढ़ विज्ञान सभा बच्चों-युवाओं को विज्ञान से जोड़कर और अंधविश्वास की रूढ़ी को तोड़कर हमारे कल को तथ्यों पर विश्वास करने वाला वैज्ञानिक भारत बनाने संकल्पित है।विज्ञान के असीमित ज्ञान को जन-जन तक पहुंचाने के अपने उद्देश्य को आगे बढ़ाते हुए पिथौरा ईकाई ने एक कार्यक्रम आयोजित किया। जिसमें चंद्रमा की सतह पर कीर्तिमानों के ध्वज स्थापित कर चुके भारत के मिशन चंद्रयान को लेकर स्कूल के बच्चों के साथ महत्वपूर्ण परिचर्चा की गई।

अठारहगुड़ी स्थित शासकीय मिडिल स्कूल में विज्ञान सभा की पिथौरा इकाई द्वारा चंद्रयान मिशन पर आयोजित व्याख्यान में कक्षा छठवीं से आठवीं तक के विद्यार्थियों को इसरो के तीनों चंद्रयान मिशन की जानकारी दी गई। उन्हें बताया गया कि किस प्रकार से भारत के ऊर्जावान वैज्ञानिकों ने दिन रात मेहनत कर इस मिशन को अपने लक्ष्य तक सफलता पूर्वक पहुंचाया। छत्तीसगढ़ विज्ञान सभा के कार्यकारी अध्यक्ष विश्वास राव मेश्राम ने उन्हें अवगत कराया कि किन वैज्ञानिक तकनीकों को मदद से अंतरिक्ष की चुनौतियों को हल कर चंद्रयान को चंद्रमा के उस अनछुई सतह पर सुरक्षित लैंड कराया, जहां पर उसने भारत के नेतृत्व में विश्व स्तर के अपने वास्तविक मिशन का न केवल शुभारंभ किया, बल्कि अपेक्षा से कहीं बढ़कर परिणाम दिए। इन बातों को जानकर बच्चे काफी उत्साहित हुए। सवाल जवाब के माध्यम से बच्चों की जिज्ञासाओं का भी समाधान किया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.