March 4, 2024

कठिन सवालों का सरलता से जवाब देकर गर्व से कृषि कॉलेज के विद्यार्थी बोले- हम भी संविधान जानते हैं

1 min read

Video:- कृषि महाविद्यालय में रासेयो इकाई ने मनाया संविधान दिवस। देश के प्रत्येक नागरिक के लिए अपने अधिकारों की पहचान और देश के संविधान का सम्मान एक कर्तव्य है। यही उद्देश्य रखते हुए कृषि महाविद्यालय में एनएसएस इकाई द्वारा विद्यार्थियों के लिए प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। संविधान की जानकारी पर हुई कठिन सवालों की प्रतिस्पर्धा में कई विद्यार्थियों ने सरलता से जवाब देकर यह परिलक्षित किया कि वे भारत के संविधान के प्रति जागरूक हैं और उन्हें भी उनका ज्ञान है। इस प्रश्नोत्तरी के अलावा भी अनेक स्पर्धाएं आयोजित की गई और उम्दा प्रदर्शन पर कृषि स्टूडेंट्स को पुरस्कृत किया गया।

कोरबा(theValleygraph.com)। कृषि महाविद्यालय व अनुसंधान केंद्र कटघोरा कोरबा में संविधान दिवस बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। जिसमें सर्वप्रथम कृषि महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ एसएस पोर्ते ने डॉ भीमराव बाबा साहेब अंबेडकर की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई कृषि महाविद्यालय के समस्त छात्र छात्राओं ने सहभागिता सुनिश्चित करते हुए विभिन्न आयोजनों में भाग लिया। संविधान दिवस पर रंगोली प्रतियोगिता में कृषि महाविद्यालय के विद्यार्थियों की टीम में शामिल ए सौम्य वर्मा, नेहा यादव, सुशीला राठिया व टीम बी में मधु, सुमन, वीना, स्वाति द्वारा कृषि महाविद्यालय के प्रांगण में सुंदर सुंदर रंगोली बनाई गई। तत्पश्चात सभी छात्र-छात्राओं का ऑफलाइन संविधान संबंधी प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता आयोजित किया गया। प्रथम स्थान पर अर्जुन यादव प्रथम वर्ष का छात्र रहा, द्वितीय स्थान पर तीन व तृतीय स्थान पर कुल दस छात्र-छात्राओं ने स्थान प्राप्त किया। इन विद्यार्थियों ने अपने प्रदर्शन से खुद को अपने देश के संविधान के प्रति जानकर और जागरूक होना परिलक्षित किया। ऑफलाइन संविधान परीक्षा उपरांत सभी छात्र-छात्राओं ने भारत सरकार के द्वारा चलाए गए ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में हिस्सा लिया व प्रमाण पत्र प्राप्त किया ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी में महाविद्यालयीन स्टाफ ने भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। राष्ट्रगान के उपरांत संविधान की प्रस्तवाना का पाठन कर शिक्षकों और विद्यार्थियों द्वारा शपथ ग्रहण किया गया जिसे ऑनलाइन भी शपथ लेकर प्रमाण पत्र लिया गया। कार्यक्रम में प्रमुख वक्ता डॉ जीपी भास्कर, डॉ वीएन गौतम, डॉ आशीष कारकेट्टा, डॉ हेमंत साहू, डॉ योगेंद्र सिंह, डीपी पटेल, आयुषी साहू, जालम सिंह, साहिना सिद्दीकी ने संविधान के प्रति जागरूक करते हुए संविधान का इतिहास, वैश्विक संविधान की जानकारी रखते हुए संविधान के वर्तमान समय में उपयोगिता को बताया गया।

कदम पर हमें संविधान की शक्तियों की जरूरत पड़ती है: अधिष्ठाता डॉ. SS. पोर्ते
कृषि महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ एसएस पोर्ते ने कहा कि संविधान न केवल पढ़ने के लिए है, अपितु उसे जीवन में धारण करने के लिए भी है। क्योंकि हर कदम पर हमें इसकी शक्तियों की आवश्यकता पड़ती है। जब तक हम अपने संविधान के प्रति जानकार नहीं होंगे, तब तक अपने अधिकारों के प्रति जागरूक कैसे बन सकेंगे। इस आयोजन से न केवल प्रतिभागी, बल्कि उन्हें सुनने वाले दर्शक विद्यार्थी भी ज्ञान अर्जन करने सफल रहे। छात्रों में से रामरतन मरकाम चतुर्थ वर्ष के द्वारा संविधान को समर्पित अपने लेख को कविता के रूप में प्रस्तुत किया गया। जिससे कार्यक्रम में उपस्थित सभी द्वारा गर्व की अनुभूति करते हुए मंत्रमुग्ध हो गए। कार्यक्रम के संचालन का दायित्व समन्वयक राष्ट्रीय सेवा योजना डॉ आरके भारद्वाज व डॉ आकांक्षा पांडे के नेतृत्व में आयोजित किया गया। इसके लिए कृषि महाविद्यालय के अधिष्ठाता ने सराहना करते हुए भविष्य में भी अच्छे आयोजन करने प्रोत्साहित किया। 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.