March 4, 2024

कत्ल के मामले में CBI ने पुलिस जांच को कहा OK, पति-पत्नी और दो मासूम बच्चों के 5 हत्यारों को उम्र कैद

1 min read

Video:- महासमुंद में पांच साल पहले पति-पत्नी व दो बच्चों के नृशंस हत्या हुई थी। पांच साल के इस मामले में वारदात के तीसरे ही दिन एक आरोपी संदेह के आधार पर पकड़ लिया गया था। तब महासमुंद जिले की कमान आईपीएस संतोष सिंह संभाल रहे थे, जिन्होने पूरे मामले की जांच स्वयं अपने सुपरविजन में पूर्ण कराई। पर आरोपी ने वारदात खुद अकेले करने और किसी अन्य के शामिल होने से इंकार करता रहा। तब न्यायालय की अनुमति से नार्को टेस्ट कराया गया, जिसमें 4 अन्य आरोपी सामने आए। इस पर परिजनों के आवेदन पर CBI जांच के आदेश हुए और यह पूरा होने के साथ ही पांच साल बाद यह फैसला आया और पांचों आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है।

बिलासपुर(theValleygraph.com)। महासमुंद जिले के पिथोरा के किशनपुर में एएनएम योगमाया साहू व परिवार के मर्डर केस में नार्को टेस्ट जांच में काफी मदद मिली। तत्कालीन एसपी व वर्तमान में बिलासपुर में पदस्थ पुलिस कप्तान संतोष सिंह ने इस पूरे मामले का स्वयं सुपरविजन किया था, उन्होंने बताया कि 31 मई 2018 की इस घटना में चार लोगों के परिवार की निर्मम हत्या हुई थी। वारदात के तीसरे ही दिन एक आरोपी धर्मेंद्र बरीहा शक के आधार पर 3 जून को पकड़ा गया था। घटनास्थल के पास से पीड़ित के कुछ गायब सामान धर्मेंद्र के घर से बरामद हुए थे। लेकिन उसने सिर्फ अपनी संलिप्तता स्वीकार की और किसी के बारे में कुछ भी खुलासा नहीं किया। अभियुक्त और न्यायालय की अनुमति से कुछ महीनों बाद उसका नार्को टेस्ट कराया गया। इससे चार और लोगों के नाम सामने आए। साक्ष्य एकत्र किए गए जो नार्को निष्कर्षों की पुष्टि कर सकते थे। कई आरोप लगाए गए और पुलिस पर कुछ अन्य संदिग्धों के खिलाफ मामला दर्ज करने का दबाव बनाया गया था। जांच उपरांत कुल पांच आरोपियों के खिलाफ चालान पेश किया गया। बाद में पुलिस की जांच व चालान के खिलाफ परिजनों के आवेदन पर हाईकोर्ट द्वारा सीबीआई जांच के आदेश दिए गए। सीबीआई ने अपना प्रतिवेदन कोर्ट में प्रस्तुत किया। CBI की रिपोर्ट में भी पुलिस जांच को सही ठहराया गया है और इन पांच के अलावा किसी अन्य की संलिप्तता नहीं पाई गई है। आख़िरकार कल बड़ा फैसला आ गया और पांचों आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। मामले की जांच में लंबे समय तक लगी पूरी पुलिस टीम ने पीड़ित को न्याय मिलने के फैसले पर संतुष्टि जाहिर की है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.