November 30, 2023

छग में बलात्कार की 5055 घटनाएं हुई और इनमें से 137 अकेले सीएम के विधानसभा क्षेत्र पाटन की है : सांसद विजय बघेल

1 min read

संसद भवन में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने के दौरान अपनी बात रखते हुए भाजपा सांसद विजय बघेल छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में बलात्कार की 5055 घटनाएं हुई और इनमें से 137 बलात्कार अकेले मुख्यमंत्री के अपने विधानसभा क्षेत्र पाटन में हुए। सांसद विजय बघेल ने कहा कि आप मणिपुर की बात कर रहे थे। मणिपुर में केंद्र सरकार ने किस स्तर पर काम किया है सभी को बताया गया है। राहुल गांधी बस्तर गए थे। क्या उन्होंने देखा कि वहां के आदिवासियों की क्या हालत है?

भूपेश बघेल से पारिवारिक रिश्ते साझा करते हुए विजय बघेल ने कहा कि- हां वो मेरे कका हैं पर ये भी सच है कि उन्होंने सबको ठगा है। दूसरी को कांग्रेस ने भी सांसद विजय बघेल पर पलटवार किया। छत्तीसगढ़ के प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय ठाकुर ने कहा कि भाजपा सांसद विजय बघेल ने संसद में अपनी भूमिका सुनिश्चित करते हुए छत्तीसगढ़ के लिए कुछ मांगा भी या इस बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगे मोनी बाबा बने बैठे थे।

केंद्र के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के दौरान सत्ता और विपक्ष के सांसद अपने-अपने पक्ष रख रहे थे, आरोप लगा रहे थे। इस दौरान विजय बघेल ने छत्तीसगढ़ राज्य के मसलों को लेकर अपनी बात भी रखी। उन्होंने 11 मिनट के वक्तव्य में 13 बार मुख्यमंत्री दोहराए और भूपेश सरकार को घेरने का प्रयास किया। विजय बघेल ने  भूपेश सरकार पर कई तरह के घोटाले करने, अनियमिताएं, महिलाओं के खिलाफ अपराध, भ्रष्टाचार में लिप्त होने के कई आरोप लगाए। सदन में विजय बघेल और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पारिवारिक रिश्ते की चर्चा भी हुई तो जवाब में सांसद बघेल ने कहा कि हां वह मेरे कका हैं मगर सबको ठगा है। अपनी बातचीत के दौरान सांसद विजय बघेल ने खुले दिल से पीएम मोदी की प्रशंसा की और प्रदेश कांग्रेस को कोसते रहे। इस दौरान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद दीपक बैज भी मौजूद थे।

दुर्ग से लोकसभा के सांसद विजय बघेल करीब सांसद अरुण साव और सुनील सोनी भी मौजूद थे। सांसद बघेल ने आगे कहा कि मैं दुखी भी हूं और खुश भी। दुख इस बात का है, कि छत्तीसगढ़ की पवित्र धरती को कलंकित करने का काम कांग्रेस पार्टी ने किया। बघेल ने इस बात पर खुशी जाहिर की कि केंद्र की मोदी की सरकार ने जो अनगिनत कार्य किए हैं और जिनके कारण देश आज विश्व में सम्मानित हुआ है, उससे हर देशवासी गर्व का अनुभव कर रहे हैं। इस दौरान वहां मौजूद रहे दीपक बैज टोकने लगे तो विजय बघेल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष व सांसद बैज के क्षेत्र में पोटाकेबिन के आदिवासी आवासीय विद्यालय की पहली कक्षा की पांच वर्ष की आदिवासी मासूम बच्ची के साथ बलात्कार हुआ है। यह छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री का भी निर्वाचन क्षेत्र है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अभी तक वहां गए भी नहीं हैं। दिल दहल जाता है। आरोपियों पर कार्रवाई भी नहीं होती।

जिसे पूर्व राष्ट्रपति कलाम ने गोद लिया था, उस गांव में दो माह से राशन नहीं पहुंचा
भाजपा सांसद बघेल ने कहा कि आदिवासी बहुल ग्राम पंचायत साबरबार के ग्राम झुमरीडूमर, जिसे पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने गोद लिया था, में दो महीने तक राशन नहीं पहुंचा और एक चार सदस्यों का पूरा परिवार भूख के कारण आत्महत्या करने के लिए मजबूर हो गया। यह हालत है छत्तीसगढ़ की। छत्तीसगढ़ में शराब में घोटाला, रेत में घोटाला, कोयला में घोटाला, मुरुम में घोटाला, सीमेंट में घोटाला, डीएमएफ फंड में घोटाला, क्या-क्या घोटाला नहीं किया!
पहले तो चारा घोटाला हुआ करता था,गोबर खरीदकर प्रदेश सरकार वाहवाही लूट रही है। अब तो गोबर में भी घोटाला हो गया, गौमूत्र में भी घोटाला हो गया।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धनंजय ठाकुर ने कहा- भाजपा सांसद ने पीएम से छग के लिए क्या मांगा

दूसरी तरफ प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धनंजय ठाकुर ने कहा- भाजपा सांसद बताये प्रधानमंत्री के साथ मुलाकात किये तो छत्तीसगढ़ के लिए क्या मांगे? मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के लिये 8 लाख प्रधानमंत्री आवास मांगे एवं हॉस्टल में लगने वाले 12 पर्सेंट जीएसटी को खत्म करने पत्र लिखे हैं भाजपा सांसदों ने इस पर क्या पहल की?

मोदी सरकार छत्तीसगढ़ से 5 साल में विभिन्न मदों से लगभग चार लाख 61 हजार करोड़ रुपए की वसूली की है बदले में छत्तीसगढ़ को मात्र 1 लाख 96 हजार करोड रुपए ही दिये हैं उसमें से भी 55 हजार करोड़ रुपए राज्य को अभी केंद्र से लेना बाकी है क्या भाजपा सांसदों ने छत्तीसगढ़ की शेष राशि को देने की मांग किये हैं?

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने प्रदेश के कर्मचारियों के रिटायरमेंट के बाद के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए पुरानी पेंशन स्कीम को बहाल की है। प्रदेश के शत प्रतिशत कर्मचारियों ने नई पेंशन स्कीम को त्याग कर पुरानी पेंशन स्कीम पर भरोसा किया है। मोदी सरकार के पास नई पेंशन स्कीम की 17240 करोड़ से अधिक की राशि कर्मचारियों की जमा है जिसे केंद्र सरकार राज्य को लौटा नहीं रही है क्या भाजपा के सांसद कर्मचारियों के हित में केंद्र के पास जमा राशि को तत्काल राज्य को लौटाने की मांग किए हैं? प्रदेश के उद्योगों को कोयला नहीं मिल रहा है क्या इन सभी संदर्भ में प्रधानमंत्री के आगे बातें रखी गई या हमेशा की तरह भाजपा के सांसद इस बार भी नरेंद्र मोदी के आगे मोनी बाबा बने बैठे थे और प्रदेश की जनता की चिंता को दरकिनार करके व्यक्तिगत स्वार्थ के चलते चुनाव में टिकट कटने के भय से ग्रसित थे और मोदी सरकार के द्वारा प्रदेश के साथ की जा रही भेदभाव सौतेला व्यवहार पर मौन थे?


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.