April 25, 2024

आज सेहत, कल साहस का रखें ख्याल, इन बातों को गांठ बांध लें तो हिंदी के इम्तिहान में कर देंगे कमाल

1 min read

हिंदी पेपर से कल शुरू होगी बोर्ड परीक्षा, इंडस पब्लिक स्कूल दीपका के प्राचार्य डॉक्टर संजय गुप्ता ने अच्छे अंक लाने हेतु दिए महत्वपूर्ण टिप्स, हिन्दी विशेषज्ञ हेमलाल श्रीवास ने हिंदी विषय में दिए महत्वपूर्ण सुझाव।

सभी छात्रों में हमेशा बोर्ड के एग्जाम को लेकर चिंता बनी रहती हैं। लेकिन बोर्ड एग्जाम कोई ऐसी परीक्षा भी नहीं होती है कि आप इसमें अच्छा स्कोर न कर पाएं| थोड़ी सी प्लानिंग और टिप्स को अपना कर आप बोर्ड की परीक्षाओं में टॉप कर सकते हैं या फिर अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं।
90% प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आपको अपनी पढ़ाई में ध्यान केंद्रित करना होगा और नियमितता से पढ़ाई करनी होगी। सबकुछ सीखने में समय लगता है, इसलिए आपको धैर्य रखना होगा। अगर कोई बात समझने में समस्या हो रही है, तो शिक्षक से पूछना चाहिए और बार-बार सवाल पूछना चाहिए। शब्द सीमा के भीतर रहने का प्रयास करें । नियमों को जानें और व्याकरण में अपवादों को भी याद रखें। उत्तर देने से पहले आपको प्रश्न संख्याएँ उचित क्रम में अवश्य लिखनी चाहिए। अपठित गद्यांश के पहले प्रश्न पढ़ें, फिर गद्यांश।

कोरबा(theValleygraph.com)। आगामी सीबीएसई हिंदी बोर्ड परीक्षा 2024 में उच्चतम अंक प्राप्त करने के लिए इन सरल युक्तियों का पालन करें।


01-नवीनतम परीक्षा पैटर्न और अंकन योजना का पालन करें- विद्यार्थियों को चाहिए कि वह सीबीएसई के नवीनतम परीक्षा पैटर्न और अंक योजना का भली भांति अध्ययन कर लें ।यह भी देखें कि कितने शब्दों में उत्तर लिखना है और प्रत्येक प्रश्न की शब्द सीमा क्या है ।प्रत्येक प्रश्न के शब्द सीमा के अनुसार ही अंकों का विभाजन तय होता है। परीक्षा में ज्यादा से ज्यादा लिखने का प्रयास करें लेकिन तय शब्द सीमा का अवश्य ख्याल रखें। अस्पष्ट अनावश्यक एवं विद्यार्थी भाषा लिखने से बचें।
02 – सिलेबस जानें- इस साल, सीबीएसई द्वारा कुछ अध्याय हटा दिए गए थे। छात्रों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे पाठ्यक्रम से अद्यतित हैं। उन्हें उन हटाए गए अध्यायों में समय और ऊर्जा निवेश करने से बचना चाहिए। छात्रों को सभी अध्यायों को अच्छी तरह से पढ़ना चाहिए और उन्हें नियमित रूप से दोहराना चाहिए।
03 – अभ्यास नमूना पत्र और मॉडल प्रश्न पत्र- ऐसा कहा जाता है कि अभ्यास मनुष्य को पूर्ण बनाता है। छात्रों को अधिक से अधिक मॉडल प्रश्न पत्रों का अभ्यास करना चाहिए। इससे उन्हें अपनी प्रगति का मूल्यांकन करने में मदद मिलेगी। उन्हें अपनी ताकत और कमजोरियों का पता चल जाएगा और वे उसके अनुसार उन पर काम कर सकेंगे। इसके अलावा, सीबीएसई ने उन्हें नए पैटर्न से परिचित कराने के लिए सभी विषयों के सैंपल पेपर उपलब्ध कराए हैं। छात्रों को यह समझने के लिए नमूना पेपर का अभ्यास करना चाहिए कि वे वास्तविक बोर्ड परीक्षा में क्या उम्मीद कर सकते हैं।
04- लेखन अनुभाग में सही प्रारूप का उपयोग- लेखन अनुभाग में अनुच्छेद-लेखन, पत्र-लेखन, सूचना-लेखन, विज्ञान-लेखन और लघु कथा-लेखन/ईमेल लेखन, संदेश-लेखन आदि शामिल हैं, जो बहुत स्कोरिंग है। छात्रों को सही प्रारूप पता होना चाहिए। अनुच्छेद लेखन में सामग्री प्रासंगिक, संक्षिप्त और उचित होनी चाहिए और इसमें पैराग्राफ को नहीं बदला जाना चाहिए। पत्र-लेखन, सूचना-लेखन, विज्ञान-लेखन और लघु कथा-लेखन/ई-मेल-लेखन आदि में उचित प्रारूप का पालन किया जाना चाहिए। इसे साफ-सुथरा प्रस्तुत किया जाना चाहिए। विद्यार्थी विज्ञापन-लेखन में रंगों का प्रयोग कर सकते हैं।
05- अति आवश्यक बातें – प्रश्न पत्र में दिए गए निर्देशों को ध्यानपूर्वक पढ़ें और उनका पालन करें।
सभी प्रश्नों का प्रयास करें. अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए कोई भी प्रश्न अप्राप्य न छोड़ें। शब्द सीमा के भीतर रहने का प्रयास करें। नियमों को जानें और व्याकरण में अपवादों को भी याद रखें। उत्तर देने से पहले आपको प्रश्न संख्याएँ उचित क्रम में अवश्य लिखनी चाहिए।
06- समय प्रबंधन कर प्रतिदिन लेखन अभ्यास करें- 90% प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आपको अपनी पढ़ाई में ध्यान केंद्रित करना होगा और नियमितता से पढ़ाई करनी होगी। सबकुछ सीखने में समय लगता है, इसलिए आपको धैर्य रखना होगा। अगर कोई बात समझने में समस्या हो रही है, तो शिक्षक से पूछना चाहिए और बार-बार सवाल पूछना चाहिए। शब्द सीमा के भीतर रहने का प्रयास करें । नियमों को जानें और व्याकरण में अपवादों को भी याद रखें। उत्तर देने से पहले आपको प्रश्न संख्याएँ उचित क्रम में अवश्य लिखनी चाहिए। अपठित गद्यांश के पहले प्रश्न पढ़ें, फिर गद्यांश। आगामी सीबीएसई हिंदी बोर्ड परीक्षा 2024 में उच्चतम अंक प्राप्त करने के लिए इन सरल युक्तियों का पालन करें।
07- पाठ्यक्रम के सभी पाठों को गहराई से समझें ना कि रटें- क्योंकि इस बार हिंदी का ब्लूप्रिंट सबसे जुदा एवं अलग है ।इस ब्लूप्रिंट के अकॉर्डिंग प्रारंभ में 40 अंक के केवल वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे और 40 अंक के व्याख्यात्मक प्रश्न पूछे जाएंगे ।अतः विद्यार्थियों को चाहिए कि प्रथम 40 अंक के वस्तुनिष्ठ प्रश्नों की अच्छी तैयारी करें क्योंकि वस्तुनिष्ठ प्रश्नों में अंक कटने के बाद उन अंकों की भरपाई करने की कोई गुंजाइश नहीं रहती ।अतः प्रत्येक पाठ को गहराई से पढ़ने और समझने का प्रयास करें ।यदि कोई शंका है तो तत्काल विषय शिक्षक से संपर्क करें ।40 अंक के वस्तुनिष्ठ प्रश्न पर सबसे ज्यादा ध्यान दें।
08- लेखन सुंदर सुगठित व आकर्षक होने चाहिए – विद्यार्थियों को चाहिए कि वह अपनी हैंडराइटिंग पर भी विशेष ध्यान दें। यदि आपके लिखावट आकर्षक और साफ सुथरी है तो परीक्षक भी आपकी उत्तर पुस्तिका को रुचि लेकर पढ़ेगा। आपकी हैंडराइटिंग भी आपकी अच्छी तैयारी का परिचायक होती है ।आपकी अच्छी हैंडराइटिंग आपका आत्मविश्वास झलकाता हैं। प्रत्येक प्रश्नों के उत्तर को क्रमानुसार सुंदर अक्षरों में लिखने का प्रयास करें ।मात्राओं की गलतियों से सर्वथा बचना चाहिए। प्रश्नोत्तर यादकर, समझकर प्रतिदिन लिखकर अभ्यास करें ।इससे न सिर्फ आपकी हैंडराइटिंग अच्छी होगी साथ ही मात्राओं की गलतियां भी दूर होगी।
09 – लेखन कौशल सुधारें- हिंदी में अच्छे अंक लाने के लिए छात्रों को अपना लेखन कौशल सुधारने पर ध्यान देना चाहिए। टॉपर्स की उत्तरपुस्तिकाएं देखकर उत्तर लिखने के सही क्रम को समझें और अपनी गलतियों में सुधार करें।
उत्तर लिखने के दौरान शब्द और समय सीमा का पालन करें। दबाव में उत्तर लिखने का अभ्यास करें ताकि समय की कमी होने पर भी लिखावट प्रभावित न हो। उत्तरों को प्वाइंट्स में लिखने की कोशिश करें और महत्वपूर्ण जानकारियों को रेखांकित करें।
10 – पिछले साल के प्रश्नपत्र हल करें- हिंदी के पिछले साल के प्रश्नपत्रों को हल करें और पूछे गए सवालों का गहराई से विश्लेषण करें। कई बार सवाल और विकल्प दोहराए जाते हैं। ऐसे में सभी महत्वपूर्ण टॉपिकों को अच्छी तरह कवर करें। प्रश्नपत्र हल करते समय अपने मजबूत क्षेत्र और कमजोर क्षेत्र की पहचान करें और उसी के अनुसार अध्ययन करें। हिंदी के प्रत्येक खंड को अच्छी तरह पढ़ें। प्रत्येक खंड को पढ़ने के लिए समय निर्धारित करें।
11 – उत्तर पुस्तिका के दोनों तरफ उचित स्थान छोड़े, सभी उत्तरों को बॉक्स के अंदर लिखें – ऊपर – नीचे, दाएं- बाएं सभी तरफ यदि उचित स्थान छोड़कर निर्धारित बॉक्स के अंदर हम सभी प्रश्नों के उत्तर क्रमानुसार लिखें तो ऐसी प्रस्तुति न सिर्फ देखने में अच्छी लगती है अपितु यह हमारी बेहतर प्रस्तुति का भी परिचायक होता है।
कोशिश करें कि सर्वप्रथम हम व्याख्यात्मक प्रश्नों के उत्तर पहले लिखें इसके पश्चात एक निर्धारित समय सीमा के अंदर हम सभी वस्तुनिष्ठ प्रश्नों को इत्मीनान से हल करें ।सभी प्रश्नों को हल करने के बाद पुनः यह सुनिश्चित करें कि कोई प्रश्न हमसे छूटा तो नहीं है यदि किसी प्रश्नों को उत्तर नहीं भी आता है तो भी अपनी जानकारी के स्तर के अनुसार उन प्रश्नों का उत्तर अवश्य लिखें लेकिन कोशिश करें कोई भी प्रश्न ना छोड़े।

12- अति आत्मविश्वास से बचें- अक्सर यह देखने में आता है कि कई विद्यार्थी जल्दबाजी में अति आत्मविश्वास के कारण बहुत सारे प्रश्नों का उत्तर गलत लिख बैठते हैं साथ ही बहुत सारे प्रश्नों को स्किप कर जाते हैं। इससे न सिर्फ उनके अंकों में नुकसान होता है बल्कि उनके फाइनल रिजल्ट में भी इसका इफेक्ट पड़ता है। अतः हमें इत्मीनान से सभी प्रश्नों को पढ़कर समझना चाहिए उसके पश्चात जिन प्रश्नों के उत्तर में हम सबसे ज्यादा कॉन्फिडेंट एवं अध्यक्ष थे उन प्रश्नों का उत्तर सबसे पहले कर लें लेकिन कोशिश करें कि वर्णनात्मक प्रश्नों को सर्वप्रथम हल करें तत्पश्चात वस्तुनिष्ठ प्रश्नों को पूरा समय दें। हड़बड़ी में गड़बड़ी करने से हमेशा बचें।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.