April 22, 2024

ट्रेन में चाय पर पैसेंजर का बवाल, स्टाफ से कहा- हमें INDIA वाली चाय पिलाइए, ये हलाल सार्टिफाइड क्या है

1 min read

वायरल वीडियो, आप भी देखिए सावन में भड़के यात्री का बवाल।

इंटरनेट मीडिया पर लगभग डेढ़ मिनट का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस विडियो में देखा जा सकता है कि ट्रेन में सफर करते समय एक पैसेंजर चाय प्रीमिक्स को लेकर हंगामा कर रहा है। दरअसल इस चाय पर हलाल सर्टिफाइड लिखा है। पैसेंजर को ट्रेन में कार्यरत स्टाफ ये समझाने का अथक प्रयास कर रहा है कि चाय पूर्ण रूप से शाकाहारी है। लेकिन यात्री इस बात पर बवाल मचा रहा है कि आखिर ये हलाल सार्टिफाइड क्या होता है। वायरल वीडियो में यात्री वहां के कर्मचारियों से सवाल कर रहा है कि हलाल सर्टिफाइड चाय का क्या मतलब है और इसे सावन महीने में क्यों परोसा जा रहा है। अपने सीनियर से अभी बात करिए और अगर देना ही है तो इंडिया सार्टिफाइड चाय दो।

आप भी जानिए आखिर क्या है हलाल सर्टिफिकेशन
वर्ष 1974 में हलाल प्रमाणिकता की शुरुआत की गई थी। यह प्रमाणिकता वर्ष 1993 तक केवल स्लॉटर मीट प्रोडक्ट्स पर लागू थी। पर बाद में अन्य फूड प्रोडक्ट्स, मेडिसिन और ब्यूटी प्रोडक्ट्स सहित कई सामग्रियों के लिए किया जाने लगा। कई इस्लामिक देशों में सरकार की ओर से हलाल सर्टिफिकेशन दिया जाता है। भारत में लगभग प्रोडक्ट पर FSSAI (फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया) का सर्टिफिकेशन देखने को मिलता है। कुछ कंपनियां ऐसी भी हैं, जो हलाल सर्टिफिकेशन देती हैं। इतना ही नहीं, वर्ष 2022 में पेटिशन भी डाली गई और मांग की गई थी कि हलाल सर्टिफिकेशन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.