April 22, 2024

अपना पर्स सीट पर छोड़कर नागपुर स्टेशन में उतर गई यात्री, ट्रेन के कप्तान व सीटीआई एएल राव ने दिया सजगता का परिचय, यात्री के हाथों तक सुरक्षित पहुंचा पर्स

1 min read

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर के मुख्य टिकट निरीक्षक ने यात्री का लेडीज पर्स सुरक्षित लौटाया, यात्रियों ने की इस पहल की सराहना।

रायपुर(thevalleygraph.com)। ट्रेन पकड़ने या उतरने की हड़बड़ी में अपने सामान सीट पर ही भूल जाना यात्रियों के लिए आम बात है, पर उनके सामान की हिफाजत को लेकर सजग रहने वाले फिक्रमंद कम ही मिलते हैं। कुछ ऐसा ही विरल उदाहरण गुरुवार को नागपुर-सिकंदराबाद एक्सप्रेस में देखने को मिला। इस ट्रेन में सवार एक महिला यात्री जल्दबाजी में जरुरी कागजात व नकद से भरा अपना पर्स सीट पर छोड़कर उतर गईं। उस वक्त ड्यूटी पर तैनात रहे ट्रेन के कप्तान व दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर के मुख्य टिकट निरीक्षक एएल राव (SECR Raipur) निरीक्षण करते हुए उस कोच में पहुंचे, जहां उन्होंने सीट पर पड़े लेडिस पर्स को देखा। श्री राव ने तत्काल कंट्रोलर को सूचित किया और जीआरपी से संपर्क कर उनके हवाले किया, ताकि यात्री को उनका सामान सुरक्षित प्राप्त कराया जा सके। मौके पर मौजूद रहे यात्रियों ने इस पहल को लेकर सीटीआई श्री राव की सराहना की।
इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार 31 अगस्त को ही ट्रेन संख्या 12771 नागपुर-सिकंदराबाद एक्सप्रेस में बी-4 की 24 नंबर की सीट पर महिला यात्री श्रुति ढोले यात्रा कर रही थीं। उन्होंने गलती से अपना पर्स, जिसमे नकदी और विभिन्न कागजात थे, उसे छोड़ दिया और नागपुर स्टेशन पर उतर गईं। इस दौरान ड्यूटी पर मौजूद रहे ट्रेन के कप्तान एएल राव मुख्य टिकट निरीक्षक, रायपुर एसईसी रेलवे जांच करते हुए जब बी-4 में पहुंचे, तो उन्हें सीट पर पर्स को देखा। उन्होंने बिना समय गंवाए तत्काल कंट्रोलर को सूचित किया और गोंदिया स्टेशन पर सीटीआई अशोक एलन को जीआरपी गोंदिया के समागम में शामिल किया गया, ताकि संबंधित यात्री तक उनका सामान सुरक्षित पहुंच सके। ट्रेन के यात्रियों ने रेलवे और सीटीआई श्री राव के इस सहयोग और कर्तव्य के प्रति सजगता के लिए सराहना की।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.