May 24, 2024

आम रेल यात्री की जरूरतों पर रिसर्च कर बनाया एडवांस वर्जन और दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की 18 ट्रेनों में लगाए गए थर्ड एसी इकोनॉमी कोच

1 min read

रेल यात्रियों को सुखद और आरामदायक यात्रा अनुभव के साथ मिलेगी किफायती सुविधा, मिलेंगे ज्यादा कंफर्म बर्थ। लखनऊ स्थित रेलवे के रिसर्च डिजाइन एंड स्टैंडर्ड ऑर्गनाइजेशन ने AC-3 इकोनॉमी क्लास के कोच तैयार किए थे। यह थर्ड एसी स्लीपर क्लास का एडवांस वर्जन है, जिन्हें सफर के दौरान लोगों की जरूरतों पर किए गए रिसर्च को ध्यान में रखकर डिजाइन किए गए हैं।

बिलासपुर(theValleygraph.com)। भारतीय रेल यात्रियों की सुविधा को ध्यान रखते हुए अपनी सेवा को निरंतर आधुनिक तथा उन्नत करती रही है, ताकि यात्रियों को सुखद और आरामदायक यात्रा अनुभव प्राप्त हो। भारतीय रेलवे देश की जीवन रेखा के रूप में देखा जाता है। ट्रेन यात्रा लोगों की पहली पसंद भी है, क्योंकि यह संरक्षित परिचालन के साथ सुरक्षित और तेज है। रोजाना हजारों-लाखों लोग एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने के लिए ट्रेन से सफर करते हैं ।

एक ही ट्रेन में रेलवे अलग-अलग कोच के जरिए यात्रियों को कई तरह की सुविधाएं उपलब्ध कराती है। जिसमें यात्री अपने अनुसार यात्री कोच का चयन कर सकते हैं। इसके लिए फर्स्ट एसी, सेकेंड एसी और थर्ड एसी या स्लीपर जैसे कोच होते हैं। एक आम यात्री की पहली पसंद थर्ड एसी कोच है। जिसकी मांग यात्रियों द्वारा सबसे अधिक की जाती है। इसकी मांग तथा लोकप्रियता को देखते हुए रेल मंत्रालय द्वारा थर्ड एसी इकॉनामी कोच विकसित किया गया, जो कि सुविधा में परंपरागत थर्ड एसी की तुलना में अधिक बेहतर तथा आरामदायक है लेकिन इसका किराया थर्ड एसी की तुलना में काफी कम है । दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में भी विभिन्न ट्रेनों में इस तरह के थर्ड एसी इकॉनमी कोच लगाए गए हैं । इनमें दुर्ग-भोपाल अमरकंटक एक्सप्रेस, दुर्ग-निज़ामुद्दीन एक्सप्रेस, दुर्ग-जम्मूतवी एक्सप्रेस, दोनों दुर्ग-नौतनवा एक्सप्रेस, दुर्ग-कानपुर एक्सप्रेस, दुर्ग-अजमेर एक्सप्रेस, एवं दुर्ग-ऊधमपुर एक्सप्रेस में थर्ड एसी इकॉनमी कोच की सुविधा दी गई है। थर्ड एसी इकॉनमी कोच थर्ड एसी की तरह की ही कोच हैं। इसमें वही सब सुविधाएं दी जाती है जो सुविधाएं थर्ड एसी में यात्रियों को दी जाती है। थर्ड एसी में 72 सीटें होती हैं, लेकिन एसी-3 इकोनॉमी में इससे 11 सीट अधिक अर्थात 83 सीटें होती हैं। इससे यात्रियों के लिए ज्यादा कन्फ़र्म बर्थ की सुविधा भी उपलब्ध हुई है।

साल 2021 में शुरू किया गया था संचालन

भारतीय रेलवे ने थर्ड एसी इकोनॉमी कोच का संचालन साल 2021 में शुरू किया था। थर्ड एसी इकोनॉमी कोच पुराने थर्ड एसी के मुकाबले नए हैं और आधुनिक सुविधाओं को इसमें शामिल किया गया है । इसको डिजाइन भी पहले की तुलना में बेहतर और अलग तरीके से किया गया है. वहीं थर्ड एसी इकोनॉमी कोच में हर सीट के यात्री के लिए एसी डक्ट अलग-अलग लगाया गया है । इसके साथ हर सीट के लिए बोतल स्टैंड, रीडिंग लाइट और चार्जिंग की व्यवस्था की गई है।

RRDS लखनऊ में तैयार हुए रिसर्च बेस्ड एडवांस वर्जन

लखनऊ स्थित रेलवे के रिसर्च डिजाइन एंड स्टैंडर्ड ऑर्गनाइजेशन ने AC-3 इकोनॉमी क्लास के कोच तैयार किए थे। यह थर्ड एसी स्लीपर क्लास का एडवांस वर्जन है। इसकी डिज़ाइन नेशनल इंस्टीट्‍यूट ऑफ डिजाइन (NID) अहमदाबाद ने देश के लोगों की ट्रैवलिंग हैबिट पर रिसर्च कर तैयार की थी। इस रिसर्च में सफर के दौरान लोगों की जरूरतों का जिक्र है। इसी रिसर्च को ध्यान में रखकर नए कोच डिजाइन किए गए हैं। कोच का लेआउट स्लीपर कोच की तुलना में काफी अलग है। इनकी फिनिशिंग भी काफी लग्जरी है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.