April 22, 2024

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अलर्ट मोड पर थानेदार, बदमाशों की हो रही कुंडली तैयार, तलब कर किए जा रहे खबरदार

1 min read

थाना प्रभारियों को प्रतिबंधात्मक व लघु अधिनियम के तहत कार्रवाई के निर्देश, मोटरयान अधिनियम की अनदेखी भी पड़ेगी भारी, 4 जिला बदर तो 82 को माफी

कोरबा(thevalleygraph.com)। जिले में विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने पुलिस ने कवायद तेज कर दी है। थाना चौकी प्रभारियों की बैठक लेकर प्रतिबंधात्मक और लघु अधिनियम के तहत कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही मोटर व्हीकल एक्ट व नियमों की धज्जी उड़ाने वालों पर कार्रवाई के लिए कहा गया है। खासकर चुनाव के दौरान खलल पैदा न हो इसके लिए निगरानी व गुंडा बदमाशों को हिदायत दी जा रही है। थानों में दर्ज अपराध के आधार पर नई सूची तैयार की जा रही है।

प्रदेश में आसन्न विधानसभा चुनाव को लेकर उल्टी गिनती शुरू हो गई है। निर्वाचन आयोग के निर्देश पर प्रशासन चुनाव से संबंधित तैयारी में जुटी है। इधर चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से कराने पुलिस ने भी तैयारी तेज कर दी है। यदि जिले की बात करें तो कोरबा, कटघोरा, पाली तानाखार व रामपुर चार विधानसभा है। इन विधानसभाओं में विभिन्न राजनैतिक दलों के अलावा स्वतंत्र प्रत्याशी मैदान पर होंगे। प्रत्याशी और उनके समर्थक मतदाताओं को अपने पक्ष में करने प्रचार प्रसार करेंगे। उनकी आड़ में असामाजिक तत्व उत्पात मचा सकते हैं। मतदान स्थल पर विवाद की स्थिति निर्मित हो सकती है। इसके अलावा कई अन्य घटनाएं घटित होने की संभावना बनी रहती है। जिससे चुनाव में अशांति का माहौल निर्मित हो सकता है। इन तमाम परिस्थितियों को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था को दुरूस्त करने कवायद तेज कर दी है। बीते दिनों थाना चौकी प्रभारियों की बैठक आयोजित की गई थी। इस बैठक में प्रतिबंधात्मक कार्रवाई के अलावा लघु अधिनियम की कार्रवाई के निर्देश जारी किए गए हैं। साफ तौर पर कहा गया है कि उन असामाजिक तत्वों के खिलाफ ठोस कार्रवाई की जाए जो शांति व्यवस्था में खलल पैदा कर सकते हैं।  इसके अलावा नियमों को ताक पर रख वाहन चलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। यह कार्रवाई पुलिस ने तेज कर दी है। जिले के विभिन्न थाना चौकी क्षेत्र में कई ऐसे बदमाश हैं जिनके खिलाफ अलग-अलग क्षेत्रों में अपराधिक मामले दर्ज हैं। ऐसे बदमाशों की सूची तैयार की जा रही है। इसके अलावा निगरानी व गुुंडा बदमाशों के रिकार्ड खंगाले जा रहे हैं। यदि पुलिस की चेतावनी के बाद उनके व्यवहार में सुधार आया है तो उन्हें माफी बदमाश में शामिल किया जा रहा है। वहीं कई ऐसे भी हैं जिनकी संलिप्तता अपराधिक गतिविधि में पाई जा रही है उनकी सूची तैयार की जा रही है, ताकि चुनाव के दौरान किसी प्रकार का खलल पैदा न कर सके। बहरहाल विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पुलिस की सख्ती से असामाजिक तत्वों में हड़कंप मचा हुआ है।

प्रतिबंधात्मक के साथ बांड ओवर की कार्रवाई

जिले में कई ऐसे बदमाश हैं जिनकी अपराधिक गतिविधियों में संलिप्तता पाई जा रही है। उन पर थानों में तीन या तीन से अधिक अपराध पंजीबद्ध हैं ऐसे बदमाशों  के खिलाफ धारा 110 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा एसडीएम व तहसील कार्यालय में बांडओवर की कार्रवाई भी करने कहा गया है।

सरहद पर होगी पैनी निगाह

जिला पुलिस कप्तान यू उदय किरण के दिशा निर्देश पर जिले में विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने सरहद पर पुलिस की पैनी निगाह होगी। इसके लिए राज्य व पड़ोसी जिले की पुलिस से सामंजस्य स्थापित कर जांच पड़ताल की जाएगी। जिला पुलिस ने चुनाव के मद्देनजर सरहदी इलाके में नाके का चिन्हांकन शुरू कर दिया है, ताकि जवानों की तैनाती की जा सके।

4 जिला बदर तो 82 को माफी

जिले के विभिन्न थानों में दर्ज अपराध के आधार पर सूची तैयार की गई है। जिसके मुताबिक वर्तमान में 105 निगरानी बदमाश, 106 गुंडा बदमाश हैं, जबकि 82 ऐसे हैं जिनके व्यवहार में पुलिस की समझाइश के बाद सुधार हुआ है। वे अपराध से तौबा कर चुके हैं। उनका नाम माफी बदमाश में शामिल किया गया है। वहीं चार के खिलाफ जिला बदर की कार्रवाई हुई है।

वर्जन

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सुरक्षा इंतजाम पुख्ता किया जा रहा है। थाना प्रभारियों की बैठक आयोजित कर दिशा निर्देश जारी किए जा रहे हैं। सरहदी इलाके में पुलिस की पैनी नजर रहेगी, ताकि शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न कराई जा सके।

– अभिषेक वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, कोरबा


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.