March 4, 2024

Lover बन गया Killer, प्रेमिका ने की शादी की जिद तो गला घोंटकर कत्ल, फिर दोस्तों के साथ वहीं कब्र सजा दी, जहां वो मिलते थे

1 min read

Video:- दो माह पहले गायब हुई युवती जब मिली तो बन चुकी थी कंकाल, हत्यारे प्रेमी समेत पुलिस की गिरफ्त में आए 5 आरोपी। आरोपियों की निशानदेही पर जमीन की खुदाई कर जंगल से कंकाल भी बरामद।

पहले गुम इंसान, फिर अपहरण और उसके बाद बेरहमी से हुए कत्ल की वारदात में तब्दील इस मामले के मुख्य आरोपी ने अपनी ही प्रेमिका की जान ले ली। रोज की तरह वह सिलाई सीखने के बहाने एक सुबह घर से निकली और फिर कभी जिंदा न लौटी। घर से निकलकर वह अपने प्रेमी से मिलने पहुंची और फिर एक बार उससे शादी की जिद करने लगी। पर प्रेमी तैयार न था और युवती की बार बार की जिद ने उसे परेशान कर दिया था। इस परेशानी से निजात पाने उसने इस मौके का फायदा उठाया और जंगल के वीराने में ही गला घोंटकर अपनी प्रेमिका को हमेशा के लिए चुप करा दिया। लाश ठिकाने लगाने के लिए उसने चार दोस्तों को बुलाया और मृतका की कब्र वहीं सजाकर अपने अपने घर लौट आए।

कोरबा(theValleygraph.com)। दो माह पूर्व लापता हुई युवती की हत्या उसके प्रेमी ने कर लाश को जंगल में दफना दिया था। शादी का दबाव डालने पर गला दबाकर उसकी हत्या की थी। अपने चार साथियों की मदद से उसने लाश को जंगल में दफनाया था। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जंगल से खुदाई कर कंकाल बरामद किया है।
पुलिस थाना बांगो अंतर्गत निवासरत कृष्णा विश्वकर्मा ने गत 28 सितंबर को अपनी पुत्री संतोषी विश्वकर्मा के गायब होने की सूचना पुलिस को दी थी। संतोषी सिलाई मशीन का काम सीखने के नाम से कोरबा जाने निकली थी। जिसके बाद से वह गायब हो गई थी। पुलिस ने गुम इंसान दर्ज कर उसकी पतासाजी शुरू की। इस बीच पुलिस को पता चला कि पाली थाना अंतर्गत पोड़ी बनिहार मोहल्ला निवासी सोनूलाल साहू 27 वर्ष के साथ युवती का संबंध था। पुलिस ने आरोपी सोनू साहू से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने हत्या का राज उगल दिया। घटना दिनांक को युवती के साथ संबंध बनाने के बाद वह पाली अंतर्गत केराझरिया जंगल में उसे घुमाने ले गया था। जहां गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को जंगल में रख दिया। उसे ठिकाने लगाने अपने साथ सलिहाभांठा पोड़ी निवासी संदीप भोई 21 वर्ष, विरेन्द्र भोई 19 वर्ष, सुरेन्द्र भोई 21 वर्ष और जीव राव जाघय 19 वर्ष को इसकी जानकारी दी। जिनकी मदद से जंगल में ही गड्ढा खोदकर उसका शव दफना दिया। पुलिस ने वैधानिक कार्यवाही के तहत आरोपियों के बताए स्थल में खुदाई कर मौके से कंकाल बरामद किया है। पुलिस ने बताया कि संतोषी सोनू पर शादी का दबाव बना रही थी, इसलिए उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 302, 201, 120बी, 376, 364क, 365, के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है।
कॉल कर मांगी फिरौती और यहींं फंस गए
पुलिस की तफ्तीश पहले इस केस को गुमशुदगी के समाधारण मामले मान रही थी, लेकिन युवती के गायब होने के बाद उसी के मोबाइल नंबर से अज्ञात व्यक्ति ने संतोषी के पिता कृष्णा विश्वकर्मा को फोन किया। पुत्री का अपहरण होने की बात कहते हुए 15 लाख रूपये फिरौती मांगी। इसकी शिकायत पुलिस तक पहुंची तो नया मोड़ आने के साथ केस गंभीर हो गया। जिसके बाद पुलिस भी हरकत में आ गई। मोबाइल नंबर का लोकेशन ट्रेस कर आरोपियों को पकड़ने पुलिस ने जाल बिछाया।

पकड़े जाने के डर से आत्मसमर्पण करने कोर्ट पहुंच गए थे आरोपी
पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच में जुटी हुई थी। पुलिस को पहले ही सोनू लाल साहू और युवती के बीच संबंध का लिंक मिल चुका था। उसके साथी जीवा राव से भी पुलिस पूछताछ कर चुकी थी। पुलिस के हाथ उनके गिरेबांन तक कभी भी पहुंच सकते थे। इस डर से 28 नवंबर को आरोपी कटघोरा न्यायालय में आत्मसमर्पण करने पहुंचे थे, लेकिन पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए रिमांड प्राप्त कर लिया। जहां आरोपियों से कड़ी पूछताछ में हत्याकांड का खुलासा हो गया।

दो माह से जंगल में दफ़न शव कंकाल में तब्दील, DNA टेस्ट की तैयारी
पुलिस ने जानकारी दी है कि आरोपियों के बताए स्थान से खुदाई के बाद कंकाल बरामद कर लिया गया। दो माह से जंगल में दफन वह शव अब एक कंकाल में तब्दील हो चुका है। पुलिस ने वैधानिक कार्यवाही के बाद कंकाल को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इसके साथ ही शव संतोषी का ही है, इस बात की पुष्टि के लिए अब उसकी DNA जांच की तैयारी भी शुरू कर दी गई है और इसकी प्रक्रिया भी पूरी करने के बाद डीएनए जांच के लिए सैम्पल भेजा जाएगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.