May 24, 2024

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में आदिवासियों का हो रहा उत्थान: राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल

1 min read

विश्व आदिवासी दिवस पर जिला स्तरीय कार्यक्रम में राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने वन अधिकार पत्र सहित सामग्रियों का हितग्राहियों को किया वितरण।
कोरबा(thevalleygraph.com)। विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर आज जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जयसिंह अग्रवाल, मंत्री, राजस्व, आपदा प्रबंधन, पंजीयन और पुनर्वास (वाणिज्यिक कर) छत्तीसगढ़ शासन ने अपने उद्बोधन में कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य में आदिवासी समाज ही नहीं सभी समाज के कल्याण के लिए योजनाएं बनाकर उनका उत्थान किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने किसानों के कर्जमाफी के साथ ही धान के समर्थन मूल्य की राशि, पेसा कानून, आदिवासियों के जमीन की वापसी, देवगुड़ी स्थापना के साथ ही आदिवासी समाज को आगे बढ़ाने की दिशा में योजनाएं बनाई और उन्हें क्रियान्वित कराकर सबको लाभान्वित भी किया।
प्रियदर्शिनी इंदिरा स्टेडियम परिसर में स्थित आडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि मंत्री श्री अग्रवाल ने आगे कहा कि समाज के लोगों के पर्याप्त भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए भी शासन द्वारा व्यवस्था की गई है। देश के प्रथम प्रधानमंत्री स्व.पंडित जवाहरलाल नेहरू से लेकर श्रीमती इंदिरा गाँधी, राजीव गाँधी, पी व्ही नरसिम्हा राव, मनमोहन सिंह सहित अन्य ने आदिवासी समाज के विकास के लिए योजनाएं बनाई और इसे क्रियान्वित भी किया गया। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ व कोरबा जिला के विकास में आदिवासी समाज की महत्वपूर्ण भूमिका है। उनके आशीर्वाद और सहयोग से ही जिले में बड़े-बड़े प्लांट, खदान स्थापित हो पाए हैं, इसलिए हमारी भी प्राथमिकता होगी कि हम इस समाज के विकास में सहयोग करें। मंत्री श्री अग्रवाल ने आदिवासी समाज द्वारा स्थापित शक्तिपीठ परिसर में विकास कार्यों के लिए की गई पहल, 50 लाख रुपए के शेड निर्माण, भवन आदि की जानकारी भी दी। उन्होंने कोरबा जिले में किए जा रहे विकास कार्यों को भी बताया। विशिष्ट अतिथि श्रीमती शिवकला छत्रपाल सिंह कँवर ने कहा कि विश्व आदिवासी दिवस का आयोजन हमें अपने अस्तित्व का बोध कराती है। वर्तमान में राज्य शासन द्वारा आदिवासी वर्ग के हित में लगातार कार्य किए जा रहे हैं। वन अधिकार पत्र वितरण, सामुदायिक वन अधिकार पत्र सहित जमीन वापसी, पेसा कानून आदि में शासन द्वारा लगातार कार्य किया जा रहा है। आदिवासी शक्तिपीठ और समाज के संरक्षक श्री मोहन सिंह प्रधान ने अपने उदबोधन में कहा कि आज भारत ही नहीं, संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा भी आदिवासी, मूल निवासी दिवस मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य शासन अनेक योजनाएं संचालित कर रही है। आदिवासियों को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होना पड़ेगा। स्वागत उदबोधन में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी विश्वदीप ने कहा कि आदिवासियों की अपनी विशिष्ट संस्कृति और परम्परा है, इसलिए विश्व में उनकी एक अलग पहचान है। कोरबा जिले में लगभग 40 प्रतिशत आबादी आदिवासी समाज की है। शासन द्वारा अनेक योजनाओं का संचालन आदिवासी समाज के लोगों के लिए किया जा रहा है। आदिवासी विकास विभाग,आदिम जाति कल्याण सहित अन्य विभागों द्वारा योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। वन अधिकार पत्र, सामुदायिक वन अधिकार पत्र दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रयास जैसी विद्यालय और छात्रावास, आश्रमों में भी शिक्षा को बढ़ावा देने का काम किया जा रहा है। इससे समाज को आगे बढ़ने का अवसर मिल रहा है। सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग श्री श्रीकांत कसेर ने विभाग के अंतर्गत संचालित योजनाओं की जानकारी दी। इस अवसर पर निगम के महापौर राजकिशोर प्रसाद, जनपद अध्यक्ष हरेश कँवर, सभापति श्याम सुंदर सोनी, सुरेंद्र प्रताप जायसवाल, संतोष राठौर, समाज के पदाधिकारी युगल किशोर, राम प्रकाश, सुभाष भगत, भुनेश्वर राज, डीएफओ अरविंद पीएम, कुमार निशांत, अपर कलेक्टर दिनेश नाग, प्रदीप साहू उपस्थित थे।
विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर मुख्य अतिथि राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल द्वारा जिले के विभिन्न विभागों के अंतर्गत संचालित योजनाओं से हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया। जिसके अंतर्गत वनमण्डलाधिकारी कोरबा के अंतर्गत ठाकुरखेता के राजकुमार राठिया को तेंदूपत्ता बोनस के रूप में 97,404 रूपए व टेवानारा के शेरसिंह राठिया को 93244 रूपए तेंदूपत्ता बोनस के रूप में प्रदान किया गया। इसी प्रकार वनमण्डल कटघोरा अंतर्गत ग्राम पंचायत जल्के के सरोज कुमार को 40,203 रूपए तेंदूपत्ता बोनस, चोटिया निवासी श्रीमती चंपा बाई को शहीद महेन्द्र कर्मा बीमा योजना का 02 लाख रूपए एवं तुलसी महिला स्वसहायता समूह को कोदो खरीदी पर कमीशन 4455 रूपए प्रदान किया गया। इसी प्रकार कृषि विभाग अंतर्गत रजगामार के श्री विजय कुमार को सिंचाई पंप, उद्यानिकी विभाग के अंतर्गत चाकामार के उमेंद सिंह व सोनाराम को पॉवर स्पेयर पंप, मत्स्य विभाग के अंतर्गत कुरूडीह के प्रदीप सिंह व महेश कंवर को मत्स्य जाल व आईस बॉक्स, क्रेडा विभाग अंतर्गत सुतर्रा के नवनीत कुमार गोंड़ व गनपत सिंह को सौर सुजला योजना के तहत सोलर पंप वितरित किया गया। अंत्यावसायी एवं वित्त निगम कोरबा द्वारा पीडिया के मसिंदर सिंह को विभागीय योजनांतर्गत 3 लाख एवं कुरथा के श्री अनीस पोर्ते को ट्रैक्टर प्रदान किया गया। आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा प्रयास आवासीय विद्यालय के दसवीं की परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले मेधावी विद्यार्थी कमेश्वर मरावी, प्रिंस कुमार एवं आकांक्षा सिंह को सम्मानित किया गया। ग्राम पंचायत लेमरू को एफआरए आदर्श ग्राम के रूप में सम्मानित किया गया। साथ ही 987 हितग्राहियों को व्यक्तिगत वन अधिकार पत्र एवं 06 सामुदायिक वन संसाधन अधिकार पत्र वितरित किए गए। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कोरबा के द्वारा ग्राम लेमरू के प्रेम सिंह, अरसेना निवासी रोमन के लिए ऋण पुस्तिका वितरण किया गया।

 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.