April 25, 2024

Teachers अपने Class Room के लीडर नहीं मेंटर बनें, Students आपको सुनेंगे-समझेंगे, भरोसा करेंगे और फिर सीखेंगे भी : प्राचार्य SK साहू

1 min read

केंद्रीय विद्यालय-2 एनटीपीसी कोरबा में नवनियुक्त नियुक्त प्राथमिक शिक्षकों के तीन दिवसीय प्रशिक्षण का शुभारंभ।

कोरबा(theValleygraph.com)। आप अपने क्लासरूम में किसी लीडर की नहीं, बल्कि बच्चों के बीच उनके मेंटर की छवि निर्मित करें और एक गुरु का किरदार निष्ठापूर्वक निभाने का प्रयास करें। जब आप ऐसा करेंगे तो उसका परिणाम भी नजर आएगा। आप देखेंगे कि बच्चे आपको गौर से सुन रहे हैं, समझने की कोशिश कर रहे हैं और अब आप पर भरोसा भी करते हैं। ये तीनों बातें कामयाब रहीं, तो फिर बच्चे आपको देखकर सीखेंगे भी और इस तरह एक शिक्षक का दायित्व सफल होने में वक्त नहीं लगेगा।
यह बातें केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-2 एनटीपीसी कोरबा में सीधी भर्ती से नियुक्त प्राथमिक शिक्षकों के लिए संभाग स्तरीय तीन दिवसीय विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्राचार्य एसके साहू ने कहीं। श्री साहू इन नवनियुक्त प्राथमिक शिक्षकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम के शुभारंभ सत्र में वक्ता की भूमिका निभाते हुए मार्गदर्शन प्रदान कर रहे थे। 16 मार्च तक चलने वाले प्रशिक्षण का गुरुवार को शुभारंभ किया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन सहायक आयुक्त केंद्रीय विद्यालय संगठन रायपुर के निरीक्षण में किया जा रहा है। केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-2 एनटीपीसी कोरबा के प्राचार्य एसके साहू ने कार्यक्रम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और विद्यालय में एक शिक्षक की भूमिका जैसी होनी चाहिए, इस पर फोकस करते हुए पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के जरिए प्राथमिक शिक्षकों को मार्गदर्शन प्रदान किया। इस कार्यक्रम में केंद्रीय विद्यालय झगराखंड के मुख्य अध्यापक एए सिद्दीकी, केंद्रीय विद्यालय जांजगीर के मुख्य अध्यापक बीएल कुंभकार, जीट चंडीगढ़ से मुख्य अध्यापक रणजीत कोंधारे ने भी प्रशिक्षण में भाग ले रहे प्राथमिक शिक्षकों का मार्गदर्शन किया।

प्रशिक्षण में हिस्सा ले रहे हैं KV के 49 प्राथमिक शिक्षक
प्रशिक्षण कार्यक्रम में केंद्रीय विद्यालयों के कुल 49 प्राथमिक शिक्षक प्रतिभागी हैं। इसके अंतर्गत शिक्षकों को प्राथमिक शिक्षकों की भूमिका व जिम्मेदारियों, निपुण भारत मिशन, समावेशी शिक्षा जैसी महत्वपूर्ण विषयों के बारे में बड़ी बारीकी से अवगत कराते हुए बच्चों की उत्कृष्ट शिक्षा में अपना योगदान सुनिश्चित करने प्रेरित और प्रोत्साहित किया गया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को सफल बनाने में केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-2 एनटीपीसी की मुख्य शिक्षिका श्रीमती संगीता रानी दास व सभी शिक्षकों का महत्वपूर्ण योगदान रहा। सहायक आयुक्त केंद्रीय विद्यालय संगठन रायपुर के मार्गदर्शन में इस तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया है।

डगमगाते कदमों से शुरू होती है बच्चों के ज्ञान की यात्रा
प्राथमिक कक्षाओं में खासकर पहली-दूसरी से अपनी शिक्षा का शुभारंभ करने वाले छोटे बच्चों के लिए अपने शिक्षक के प्रति विश्वास अत्यधित लाजमी है। क्योंकि जब वे भरोसा करेंगे, तभी कखग की प्राथमिक सीढ़ियों में डगमगाते कदमों से चढ़ने की सही राह पर चल पड़ेंगे। ऐसे में जरूरी है कि अपने उत्साह और कुछ बेहतर करने का लक्ष्य लेकर एक शिक्षक के गरिमामय पद पर आने वाले प्राथमिक शिक्षक उनका हाथ मजबूती से थमना सीखें और अपने नन्हें विद्यार्थियों का भरोसा जीतने की कला में पारंगत बनें। यही उद्देश्य रखते हुए प्रशिक्षण का आयोजन किया जा रहा है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.