April 25, 2024

अब तक 36 गढ़:- बीते 3 चुनाव बीजेपी ने जीत और कांग्रेस ने लगाई हार की हैट्रिक, नक्शे में कैसी है मतों के ग्राफ और जीत की रणनीति, आइए समझते हैं राजनीति का गणित

1 min read

2009 से लेकर 2019 तक मतों के ग्राफ में बढ़त लाकर भी धराशाई होता रहा कांग्रेस और पार्लियामेंट में भारतीय जनता पार्टी ने ही लहराया मजबूत जनाधार का विजयध्वज।

लोकसभा चुनाव जीतने की उम्मीद लिए उम्मीदवारों के जन-जन से मुलाकातों, नई-पुरानी बातों और फिर से कुछ नए वादों की मुनादी का सिलसिला शुरू हो चुका है। पर जीत का सेहरा उसी के सिर बंधेगा जो जनता के दिल में अपनी ताजपोशी करने में कामयाब होगा। आइए हम भी जीत हार से जुड़ी कुछ पुरानी यादों को ताजा करने की कोशिश करते हैं, जिनमें वोटों के ताने बाने में बुनता बढ़ता छत्तीसगढ़ अपने नए कर्णधारों की तलाश में जुट गया है।

रायपुर/कोरबा(theValleygraph.com). चुनाव आयोग से जारी लोकसभा निर्वाचन के कार्यक्रम के अनुसार प्रदेश की 11 सीटों के लिए कुल तीन स्टेज में वोटिंग होगी। तय तारीखों में छत्तीसगढ़ की एक लोकसभा सीट पर 19 अप्रैल, 26 अप्रैल को तीन और शेष सात सीटों पर सात मई को मतदान होंगे। अंतिम चरण के मतदान से ठीक दस दिन बाद, यानी चार जून को संसद जीतने के चुनावी रण के परिणाम घोषित होंगे।

इसके पहले हम पुरानी इबारतों पर गौर करें, तो पता चलता है कि बीते 15 सालों में भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव के तीनों नतीजों में अपना जनाधार साबित किया है और कांग्रेस का हाथ छोड़ जनता ने करारी शिकस्त का स्वाद चखने विवश किया है।

प्रदेश में कुल ग्यारह 11 सीट पर भारतीय जनता पार्टी के हिस्से साल 2009 से 2019 तक मतों की हिस्सेदारी 6 प्रतिशत बढ़ी और दूसरी ओर कांग्रेस पार्टी के भाग में चार फीसदी उछला। बावजूद इसके, कांग्रेस को लोकसभा सीटें हासिल करने की बात पर उम्मीद के अनुरूप सफलता न मिल सकी। साल 2009 हो, 2014 और फिर पिछले लोकसभा चुनाव 2019 में भी कांग्रेस पार्टी को भाजपा ने मुकाबले में बुरी तरह परास्त किया। छत्तीसगढ़ की 11 सीट में भाजपा ने लोकसभा चुनाव वर्ष 2009 में कांग्रेस सिर्फ एक पर टिक सका और भाजपा ने 10 दस का दम दिखाते हुई दस सीट पर कब्जा किया। इसके बाद लोकसभा चुनाव वर्ष 2014 में भी कांग्रेस एक सीट ही जीत सका और भारतीय जनता पार्टी ने दोबारा अपनी जीत दोहराते हुए फिर से दस सीट पर कमल खिलाते हुए विजयध्वज लहराया। बीते इलेक्शन यानी 2019 में कांग्रेस ने एक पायदान की बढ़त ली और दो सीट जीते पर इस बार एक सीट गंवाकर भी भाजपा ने 11 में से नौ पर अपना दबदबा कायम रखा।

कोरबा की हॉट सीट पर women’s war 
छत्तीसगढ़ की कोरबा लोकसभा सीट अब हॉट सीट बन गई है। यहां भाजपा ने सरोज पांडेय को चुनावी मैदान में उतारा है। इनके सामने मौजूदा सांसद कांग्रेस की ज्योत्सना महंत चुनाव लड़ेंगी। ज्योत्सना छत्तीसगढ़ के नेता प्रतिपक्ष और कद्दावर नेता चरणदास महंत की पत्नी हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ की जिन दो सीटों पर कांग्रेस ने जीत हासिल की थी, उनमें से एक सीट ये भी थी।

कब कब कहां होंगे मतदान

लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण का मतदान 19 अप्रैल को होगा। इस चरण में बस्तर लोकसभा सीट पर मतदान होगा। दूसरे चरण का मतदान 26 अप्रैल को होगा जिसके अंतर्गत राजनांदगांव, महासमुंद और कांकेर लोकसभा सीटों पर मतदान होगा. तीसरे चरण की वोटिंग 7 मई को होगी। इसमें कोरबा, सरगुजा, बिलासपुर, दुर्ग, रायपुर, जांजगीर चांपा और रायगढ़ लोकसभा सीटों पर मतदान होगा।

तब ऊर्जानगरी से प्रथम बार मैदान में आई ज्योत्सना ने बाजी मारी

साल 2019 में ऊर्जा नगरी कोरबा की लोकसभा सीट से राजनीति में कदम रखने वाली श्रीमती ज्योत्सना चरण दास महंत ने कांग्रेस का पर्चा बुलंद किया और जीवन के पहले ही मुकाबले में जीत से शुरुआत की। उनका सामना कर रहे भारतीय जनता पार्टी के ज्योतिनंद दुबे को 26349 वोटों के भारी अंतर से करारी शिकस्त मिली थी। ज्योत्सना को 523410 और ज्योतिनंद को 497061 मिले थे।
==
बिलासपुर में अरुण ने अटल को हराया था

इसी प्रकार बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के अरुण साव ने कांग्रेस अटल श्रीवास्तव को हराकर इस सीट पर भगवा लहराया था। साव को 634559 और श्रीवास्तव के खाते में 492796 वोट पड़े थे।
==
बघेल ने हासिल की थी दुर्ग पर विजय

वर्ष 2019 में भारतीय जनता पार्टी के विजय बघेल ने कांग्रेस से लड़ने वाली प्रतिमा चंद्राकर को हराकर दुर्ग फतह किया था । बघेल को 849376 और चंद्राकर को 457396 वोट मिले थे।
==
जाजवल्य धानी में गुहाराम बने थे सांसद

जाजवल्य देव के नाम पर जाजवल्य धानी कहे जाने वाले
जांजगीर-चांपा में साल 2019 में गुहाराम अजगले ने कमल खिलाकर भाजपा का परचम लहराया और कांग्रेस के रवि परसराम भारद्वाज के हाथ शिकस्त आई। अजगले को 572790 और भारद्वाज को 489535 मत मिल सके थे।
==
तब बस्तर में बैदूराम पर बैज की जीत

पिछले लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय जनता पार्टी के बैदूराम कश्यप पर जीत हासिल करते हुए कांग्रेस के दीपक बैज ने यह सीट पाई थी। बैज को कुल 402527 और कश्यप को 363545 मत
मिले थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © https://contact.digidealer.in All rights reserved. | Newsphere by AF themes.